बुधवार, फ़रवरी 21, 2024
होमDesh DuniyaG20 Summit 2023: G21 के बारे में जाने पूरी डिटेल्स में

G20 Summit 2023: G21 के बारे में जाने पूरी डिटेल्स में

G20 Summit 2023: जैसा कि आप लोगों को मालूम है कि हाल के दिनों में भारत में G20 की मीटिंग सफलतापूर्वक पूरा हो चुका है और इस मीटिंग के माध्यम से भारत दुनिया में एक नई महाशक्ति के रूप में उभर चुका है ‘क्योंकि बड़े-बड़े विदेशी मीडिया इस बात अनुमान लगा रहा था  भारत में G20 का मीटिंग सफलतापूर्वक पूरा नहीं होगा क्योंकि विश्व भर में यूक्रेन और रूस की युद्ध के कारण विश्व दो भागों मे बट चुका है।

ऐसे में भारत में असंभव काम को भी संभव कर दिया। इसके अलावा G20 के इस अहम मीटिंग में अफ्रीकन यूनियन को भी इसका सदस्य बना दिया गया। जिसका प्रस्ताव भारत में G20 के मीटिंग में रखा था और भारत के प्रस्ताव को सभी सदस्य देशों ने स्वीकार किया।

जिसके कारण अब G20 का नाम बदल चुका है अब इसे हम लोग की 21 ग्रुप के नाम से जानते हैं जिसमें 21 देश की संख्या हो चुकी है यही वजह है कि आज के समय में लोगों के मन में ऐसा आता है कि G20, ग्रुप क्या है ? इसमें कौन-कौन से देश सदस्य हैं? इसके कार्य क्या है और ग्रुप की स्थापना कब हुई थी?

ऐसे तमाम सवाल अगर आपके मन में आ रहे हैं तो हम उन सभी का जवाब अपने आर्टिकल के माध्यम से आपको उपलब्ध करवाएंगे तो निवेदन है कि आर्टिकल पर बने रहे हैं आईए जानते हैं-

G20 Summit 2023

G20 ग्रुप क्या है

G20 ग्रुप क्या है तो हम आपको बता दे कि पहले इसे जी-20 के नाम से जाना जाता था हाल के दिनों में भारत में g21 का सम्मेलन आयोजित किया गया जिसमें इस ग्रुप के सभी सदस्य सम्मिलित हुए और भारत इस साल इस ग्रुप की अध्यक्षता कर रहा था जिसके कारण भारत के पास इस ग्रुप में किस देश को सम्मिलित करना है उसके अधिकार उसे प्राप्त है भारत ने इस बार अफ्रीकन यूनियन को इस ग्रुप में सम्मिलित करने का प्रस्ताव सभी सदस्य देशों के पास रखा जिसे सर्वसम्मति से सभी ने एक्सेप्ट किया जिसके कारण अब की-20 के ग्रुप में अफ्रीकन यूनियन को सम्मिलित कर दिया गया और ऐसे में इस ग्रुप का नाम G-21 पड़ गया है।

हम आपको बता दें जब इसकी स्थापना की गई थी तो उसे समय इसमें कुल मिलाकर साथ सदस्य थे और इसे उसे दौरान G7 के नाम से जाना चाहता था लेकिन समय-समय के बाद इसमें नए-नए सदस्य देशों को सम्मिलित किया गया  |  हम आपको बता दें की पूरी दुनिया में इस ग्रुप में जितने भी सदस्य हैं उनके जीडीपी का योगदान 85% है। ऐसे में अब अफ्रीका यूनियन को भी इसमें सम्मिलित कर दिया गया है जिसके कारण विश्व में इन सभी सदस्य देशों के जीडीपी का योगदान 90% हो गया है औ इस ग्रुप में जितने भी देश हैं वह तो विकसित या विकासशील देशों की सूची में आते हैं।

G20 ग्रुप की स्थापना कब और क्यों की गई थी

हम आपको बता दें कि आज के समय जिसे हम लोग की 21 के नाम से जा रहे हैं इसकी स्थापना 1999 में सभी देशों के वित्त मंत्री और वहां के प्रमुख बैंकों के गवर्नर के माध्यम से इस बात को महसूस किया गया था क्योंकि उसे समय पूरी दुनिया में आर्थिक संकट जैसे हालात पैदा हो गए थे। उन्होंने इस बात को महसूस किया कि ऐसे संगठन की स्थापना करनी चाहिए जिससे सभी देशों के बीच में आर्थिक सहयोग बड़े ताकि हर एक देश की आर्थिक स्थिति में मूलभूत सुधार आ सके।

G20 ग्रुप बनाने का उद्देश्य क्या था

हम आपको बता दें कि दुनिया में G21 ग्रुप बनाने का उद्देश्य विश्व में आर्थिक संकट को दूर करना आता है  इसके अलावा भी कई प्रकार के महत्वपूर्ण समस्याओं को इस ग्रुप के माध्यम से दूर करने के लिए ही इसकी स्थापना की गई थी ऐसे में हम आपको बता दे कि इस ग्रुप को बनाने के पीछे क्या-क्या उद्देश्य थे उसका पूरा विवरण हम आपको नीचे दे रहे हैं आईए जानते हैं-

  • वैश्विक अर्थव्यवस्था संबंधित एक आर्थिक सहयोग मंच को तैयार करना
  • अत्यावश्यक और गंभीर समस्याओं से निपटने के लिए अंतर्राष्ट्रीय मानक तैयार करना,
  • सबसे कमजोर राष्ट्रों को सहायता प्रदान करना
  • मजबूत, टिकाऊ, संतुलित और समावेशी विकास” के सिद्धांतों के प्रति प्रतिबद्धता आपसे देश के बीच में स्थापित करना ताकि एक दूसरे का विकास संभव हो सके

जी 20 के पास शक्तियां

G20 समूह देश के पास कौन-कौन सी शक्तियां होती है तो हम आपको बता दे किसके पास कोई भी विधाय की शक्तियां नहीं होती है और ना ही यहां पर जो भी नियम बनाए जाते हैं न ही इसके सदस्य देशों के बीच उस फैसले को मानने की कोई कानूनी बाध्यता है. हम आपको बता दें कि G21 जिसे पहले G20 के नाम  जाना जाता है या एक प्रकार के दुनिया भर के अर्थव्यवस्था को मजबूत और बढ़ावा देने के उद्देश्य से एक आर्थिक मंच तैयार किया गया है। इसके अलावा इसमें शिक्षा रोजगार और खाद्य पदार्थों की बढ़ती हुई कीमतों को नियंत्रित करने और जलवायु परिवर्तन जैसे अहम मुद्दे सम्मिलित किए गए है ताकि विश्व भर में एक संतुलित आर्थिक वातावरण बनाए जा सके।

इसका कोई मुख्यालय या सचिवालय नहीं है. जी 20 के अध्यक्ष का फैसला ट्रोइका से तय किया जाता है और हर सम्मेलन  का आयोजन जो देश कर रहा है अगले साल किस करना है इसका प्रस्ताव इस सम्मेलन में होता है हम आपको बता दें कि 2022 में इसका सम्मेलन इंडोनेशिया के बाली में हुआ था जहां पर प्रस्ताव पारित किया गया था कि 2023 में भारत इसकी अध्यक्षता करेगा और भारत में जब इसका समापन हो गया है तो देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने कहा कि अगले साल 2024 में इसका ब्राज़ील करेगा।

G20 Summit 2023 में कहां आयोजित किया गया था

हम आपको बता दें कि G20 Summit 2023 में भारत के नई दिल्ली में आयोजित किया गया था और इसे 1 दिसंबर 2022 से शुरू किया गया और इसका समापन 10 सितंबर 2023 को नई दिल्ली में हुआ हम आपको बता दे कि भारत को 2023 का जी-20 सम्मेलन अध्यक्ष करने का मौका दिया गया था। 2022 में इस सम्मेलन को इंडोनेशिया के द्वारा आयोजित किया गया था जिसमें भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सम्मिलित हुए थे। और वहीं पर इंडोनेशिया के राष्ट्रपति के द्वारा भारत को 2023 के जी-20 अध्यक्षता देने का प्रस्ताव सम्मेलन में पारित किया गया था जिसे सभी देशों के माना गया था।

G21 कैसे काम करता है?

जी20 के कार्यों को दो  भागों में विभाजित किया गया है जिसका विवरण हम आपको नीचे दे रहे हैं-

Finance Track – इसके अंतर्गत जितने भी सदस्य देश है उनके वित्त मंत्री केंद्रीय बैंक के गवर्नर और उनके संबंधित प्रतिनिधियों के साथ बैठक की जाती है। जहां पर फाइनेंस संबंधित मौद्रिक और राज्यकोषीय मुद्दे और वित्तीय विनय में जैसे तमाम मुद्दे पर चर्चा होती है हम आपको बता दें कि इसमें बैठक साल भर कई बार होती है उसकी कोई निश्चित अवधि नहीं होती है।

Sherpa Track

इसके अंतर्गत कई प्रकार के व्यापक मुद्दे होते हैं जैसे राजनीतिक भ्रष्टाचार विरोधी विकास जलवायु परिवर्तन शिक्षा संबंधित कई ऐसे मुद्दे हैं जिन पर व्यापक चर्चा प्रत्येक देश के Sherpa (सिविल सेवक या राजनयिक) द्वारा ही represent किया जाता है, जो अपने संबंधित देश के नेता सम्मिलित होते हैं और उनके द्वारा योजना और कई प्रकार के महत्वपूर्ण गाइडलाइन बनाए जाते हैं।

G-21 में  किस तरह के मुद्दों पर ध्यान ज्यादा केंद्रित किया जाता है

  • भ्रष्टाचार के विरुद्ध लड़ाई
  • जलवायु परिवर्तन
  • वैश्विक स्वास्थ्य
  • रोजगार
  • आर्थिक बाजार
  • कृषि
  • ऊर्जा
  • जॉब मार्केट में महिलाओं की उन्नति
  • आतंकवाद विरोधी
  • कर और राजकोषीय नीति बनाई जाती है

जी20 का मुख्यालय कहां है? (G-21 Headquarters in Hindi)

G-21  हेड क्वार्टर के बारे में बात करें तो इसका कोई भी हेड क्वार्टर नहीं है बल्कि इसका मीटिंग हर एक साल अलग-अलग देश में होता है 2023 में इसका आयोजन भारत में किया गया था।

G-21 के सदस्य देशों के नाम

जी 21 के अंतर्गत निम्नलिखित प्रकार के सदस्य देश सम्मिलित है जिसकी पूरी सूची हम आपको नीचे दे रहे हैं आईए जानते हैं

  • भारत
  • रूस
  • अमेरिका
  • फ्रांस
  • जापान
  • ऑस्ट्रेलिया
  • चीन
  • यूनाइटेड किंगडम
  • जर्मनी
  • ब्राज़ील
  • कनाडा
  • सऊदी अरब
  • दक्षिण अफ्रीका
  • अर्जेंटीना
  • मेक्सिको
  • इंडोनेशिया
  • इटली
  • रिपब्लिक ऑफ कोरिया
  • तुर्की
  • यूरोपीय संघ
  • अफ्रीका यूनियन (2023 के G20 समिट में इसे सम्मिलित किया गया है)

चंद्रयान 3 के बारे में संपूर्ण जानकारी और सफल कैसे हुआ 

G20 Summit 2023 सम्मेलन सूची 2023

जैसा कि आप लोगों को मालूम है कि G21 के अंदर कुल मिलकर 21 देश सम्मिलित किए गए हैं। और इसके सम्मेलन प्रत्येक साल अलग-अलग देश में आयोजित किए जाते हैं ऐसे में आपके मन में साथ है कि इसकी स्थापना से लेकर अब तक इसके सम्मेलन कहां-कहां आयोजित किए गए हैं अगर आप उसके बारे में जानना चाहते हैं तो पूरी सूची का विवरण हम आपको नीचे दे रहे हैं आईए जानते हैं-

1 14 – 15 नवंबर, 2008 यूनाइटेड स्टेट्स राष्ट्रीय भवन संग्रहालय, वाशिंगटन, डी.सी
2 02 अप्रैल, 2009 यूनाइटेड किंगडम एक्सएल लंदन, लंदन
3 2-25 सितंबर, 2009 यूनाइटेड स्टेट्स डेविड एल लॉरेंस कन्वेंशन सेंटर, पिट्सबर्ग
4 26-27 जुलाई, 2010 कनाडा मेट्रो टोरंटो कन्वेंशन सेंटर, टोरंटो
5 11-12 नवंबर, 2010 दक्षिण कोरिया COEX सम्मेलन और प्रदर्शनी केंद्र, सियोल
6 03-04 नवंबर, 2011 फ्रांस पालिस डेस फेस्टिवल, कान
7 18-19 जून, 2012 मेक्सिको लॉस काबोस कन्वेंशन सेंटर, सैन जोस डेल काबो, लॉस काबोस
8 05-06 सितम्बर, 2013 रूस कॉन्स्टेंटाइन पैलेस, सेंट पीटर्सबर्ग
9 15-16 नवंबर, 2014 ऑस्ट्रेलिया ब्रिस्बेन सम्मेलन और प्रदर्शनी केंद्र, ब्रिस्बेन
10 15-16 नवंबर, 2015 तुर्की रेग्नम कार्या होटल कन्वेंशन सेंटर, सेरिक, एंटाल्या
11 04-05 सितम्बर, 2016 चीन हांग्जो अंतर्राष्ट्रीय प्रदर्शनी केंद्र, हांग्जो
12 07-08 जुलाई, 2017 जर्मनी हैम्बर्ग मेस्सी, हैम्बर्ग
13 30 नवंबर – 01 दिसंबर, 2018 अर्जेंटीना कोस्टा सालगुएरो सेंटर, ब्यूनस आयर्स
14 28-29 जून, 2019 जापान इंटेक्स ओसाका, ओसाका
15 21-22 नवंबर, 2020 सऊदी अरब किंग अब्दुल्ला वित्तीय जिला, रियाद
16 30-31 अक्टूबर, 2021 इटली रोम
17 15-16 नवंबर, 2022 इंडोनेशिया अपूर्व केम्पिंस्की, बाली
18 09-10 सितंबर, 2023 भारत प्रगति मैदान कन्वेंशन सेंटर, नई दिल्ली
19 2024 (तिथि घोषित नहीं) ब्राज़ील  

2023 में G20 का थीम क्या था

G20 Summit 2023 भारत मे आयोजित किया गया था जिसका प्रमुख Theme वसुधैव कुटुम्बकम’ यानी- ‘वन अर्थ, वन फैमिली, वन फ्यूचर’ रखा गया था।

Suraj
Surajhttps://governmentcolleges.com
Suraj Rajbhar is the author and founder of Governmentcollege.com.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

- Advertisment -

Latest